50 Amazing Facts about Human Body | मनुष्यों के शरीर के बारे में 50 सबसे बेहतरीन तथ्य

Human Body Facts in Hindi


1. हमारे शरीर में मौजूद दोनों गुर्दों का आकार हमारे आँख या कानों की तरह एक समान नहीं होता बल्कि हमारा बांया गुर्दा दाएं गुर्दे के मुकाबले थोड़ा छोटा होता हैं, और यह छोटा इसलिए होता हैं क्यूंकि इसकी थोड़ी जगह दिल ले लेता है।


2. इंसानी शरीर बहुत से तत्वों से मिल कर बना है जिनमें से एक तत्व सोना है। एक औसतन 70 किलोग्राम के इंसान के शरीर मे 0.2 मिलीग्राम तक सोना मौजूद होता है लेकिन इस सोने को इंसानी शरीर से नहीं निकाला जा सकता।



3. महिलाओं का दिल पुरुषों के मुकाबले ज्यादा तेजी से धड़कता है और ऐसा महिलाओं के शरीर की आकार की वजह से होता है जो पुरुषों के मुकाबले छोटे होते है इसलिए दिल को खून को पम्प करने में कम मेहनत लगती है।

 

4. अगर आप भी बालों के झड़ने से परेशान है तो आपको बता दे कि एक स्वस्थ इंसान के हर दिन औसतन 50-100 बाल झड़ते है जोकि बिल्कुल आम बात है लेकिन अगर आपके बाल इससे ज्यादा झड़ते है तो ये जरूर चिंता का विषय है।


5. ज़ब हम इंसान छीँकते है तो हमारे छीँकने की रफ्तार 150 किलोमीटर प्रति घंटे की होती है इसीलिए छीँक को रोकने से दिमाग़ या कान पर असर पड़ सकता है लेकिन इतनी तेज गति की छीँक को रोक पाना लगभग नामुमकिन होता है।


6. हमारे हाथों में बीच की ऊँगली के नाख़ून सबसे तेजी से बढ़ते है जबकि हमारे पैरों के नाख़ून हाथों के मुकाबले 4 गुना धीमी गति से बढ़ते है मतलब अगर हमारी हाथों के नाख़ून 10 दिनों में 1 सेंटीमीटर बढ़ते है तो पैरों के नाख़ून 40 दिनों मे एक सेंटीमीटर बढ़ेंगे।


7. बहुत से लोगों को कान की गंध (Earwax) अजीब लगती होगी लेकिन यह गंध कानों के लिए बहुत ही जरूरी है क्यूंकि यह कानों को बैक्टीरिया से बचाती हैं और बाहर की धुल मिट्टी जैसी गंदगी या कीड़ों को कानों के अंदर जाने से रोकती हैं।


8. हमारे शरीर की लम्बाई पुरे दिन हल्की सी बदलती रहती है। सुबह के समय हमारी लम्बाई 1 सेंटीमीटर तक लम्बी होती है जबकि शाम को हम एक सेंटीमीटर तक छोटे हो जाते है।


9. रिसर्च के अनुसार महिलाएं पुरुषों के मुकाबले थोड़े से ज्यादा रंगो को देख सकती है और पुरुष एक मिनट में औसतन 11-12 बार अपनी पलकों को झपकाते है जबकि महिलाएं हर मिनट में 15-20 बार अपनी पलकों को झपकाती है।


10. इंसानों के शरीर की सबसे  छोटी कोशिका पुरुषों के शुक्राणु (Sperm) हैं जबकि सबसे बड़ी कोशिका स्त्रियों के अंडाणु (Ovum) हैं जिन्हें बिना माइक्रोस्कोप के भी देखा जा सकता हैं।


11. सभी इंसानों के शरीर की महक अलग अलग होती है जिसके कारण कुत्ते इंसानों को या छोटे बच्चे अपनी माँ को पहचान सकते है। लेकिन इंसानों की यह महक इंसानों के फिंगरप्रिंट जितनी सटीक नहीं होती।


12. हमारे जबड़े की मांसपेशी (Muscle) हमारे शरीर की सबसे मजबूत मांसपेशी हैं और इसे Masseter नाम दिया गया हैं।


13. आँखों में मौजूद Cornea इंसान के शरीर का इकलौता ऐसा हिस्सा है जिसे ब्लड सप्लाई की जरूरत नहीं होती। Cornea को ऑक्सीजन सीधे हवा से ही मिल जाती है।


14. जन्म के समय इंसानों के शरीर में 300 के करीब हड्डीयाँ होती है लेकिन बच्चे जैसे ही बड़े होने लगते हैं तो ये हड्डीयाँ आपस में जुड़ जाती है और 206 ही रह जाती हैं।


15. हमारे शरीर में जितने भी दो अंग मौजूद हैं उनमे से अगर एक को निकल भी दिया जाता है तो इंसान एक अंग के साथ भी जीवित रह सकता हैं, हाथ, पैर कान, आँख इसके कुछ उदाहरण हैं।


16. जो भी लोग हमारे हाथों की छोटी ऊँगली को व्यर्थ समझते हैं उन्हें बता दे की हमारे हाथों की 50% ताकत छोटी ऊँगली की वजह से ही आती हैं और इसे आप छोटी ऊँगली को खड़ा रखा कर बाकी की उंगलियों से मुक्का मार कर आजमा सकते हैं।


17. इंसानों के शरीर में 3 तरह की नसे मौजूद होती है और इन सब को अगर एक साथ मिलाया जायेगा तो ये नसे 60,000 मील लम्बी हो जायेगी यानि की इससे पृथ्वी के दो चक्कर लगा सकते है।


18. त्वचा इंसान के शरीर का सबसे बड़ा अंग (Organ) है।


19. इंसानों के शरीर से हर दिन 500 मिलियन के करीब मरे हुए स्किन सेल्स निकलते हैं। हमारे घरों में बार बार धूल मिट्टी के जमा होने का कारण भी यही सेल्स होते हैं।


20. हमारी जांघो पर मौजूद The Femur नाम की हड्डी हमारे शरीर की सबसे लम्बी और सबसे मजबूत हड्डी है जो हमें चलने और खडे रहने में मदद करती है, जबकि इंसान के शरीर की सबसे छोटी हड्डी The Stapes होती है जो कानों के बीच मौजूद होती है और इसका आकार सिर्फ 2.8 मिलिमीटर होता है।


21. इंसानों की लम्बाई किसी उम्र के बाद बढ़नी बंद हो जाती हैं लेकिन कान और नाक इंसान के शरीर के ऐसे अंग है जो पूरी उम्र बढ़ते रहते है।


22. पृथ्वी पर इंसान ही इकलौते ऐसे जीव है जिनकी ठोड़ी (Chin) होती है।


23. Small Intestine इंसान की छोटी अंतड़िया हैं लेकिन इसकी नाम के विपरीत ये सिर्फ चौडाई में ही पतली हैं लेकिन लम्बाई में यह 23 फुट तक लम्बी होती हैं जो इंसानों की लम्बाई का 3 गुना से भी ज्यादा होता हैं।


24. हमारे दिमाग़ का दाहिना हिस्सा शरीर के बाएं हिस्से को काबू करता है जबकि दिमाग़ का बांया हिस्सा शरीर के दाहिने हिस्से को काबू करता है।


25. दाँत हमारे शरीर के इकलौते ऐसे अंग है जो खुद ठीक नहीं हो सकते जबकि शरीर के बाकि सभी अंग चोट लगने पर खुद को ठीक कर लेते हैं, और हमारे दाँत पुरे सफ़ेद रंग के नहीं होते बल्कि हल्के पीले रंग के होते है।


26. इंसानों द्वारा अपनी कोहनी को चाँट पाना लगभग नामुमकिन होता हैं और कोहनी की त्वचा ऐसी होती है जहाँ हम जितनी मर्जी जोर से चुटकी काट ले हमें दर्द का अहसास नहीं होता।


27. इंसानों के जीभ में 2,000 से 8,000 तक स्वाद की कलियाँ (Buds) होती हैं। लेकिन 60 साल की उम्र के बाद ये कलियाँ कम होने लगती है या सिकुड़ने लगती है इसीलिए बुढ़ापा आने पर हम खाने के स्वाद का सही से पता नहीं लगा पाते।


28. आयरन (लोहा) हमारे शरीर के लिए बेहद जरूरी होता है क्यूंकि यह हीमोग्लोबिन बनाने में मदद करता है। हमारे शरीर में औसतन 3-4 ग्राम तक लोहा मौजूद होता है जिससे एक कील तक बन सकती है।


29. हमारे आँखों की मांसपेशी हमारे शरीर की सबसे तेजी से चलने वाली मांसपेशी है। किसी भी प्रकार के चोट या किसी घटना के एहसास होने पर हमारी आंखे बहुत ही जल्दी बंद हो जाती है जिससे यह खुद को बचा सके।


30. इंसान के अंदर हर दिन 1-2 लीटर तक लार/थूक (Saliva) बनता हैं और पुरे उम्र में हम 40,000 लीटर तक लार बनाते हैं जिससे की 2 स्विमिंगपूल को भरा जा सकता हैं।


31. Cardiac muscle हमारे दिल में मौजूद मांसपेशी होती है और यह इकलौती ऐसी मांसपेशी है जो कभी नहीं थकती, यह पूरी जिंदगी बिना रुके और थके अपना काम करती रहती है।


32. जन्म के समय बच्चों की रोते समय आंसू नहीं निकलते क्यूंकि उस समय उनमें आंसू निकालने वाली आंसू नलिका (tear ducts) का निर्माण नहीं हुआ होता और इसका निर्माण जन्म के 1 महीने बाद शुरू होता है।


33. हमारा शरीर हर दिन 330 बिलियन कोशिकाएं बदलता हैं और इस गति से हमारे शरीर में हर सेकंड 3.8 मिलियन कोशिकाएं बनती हैं।


34. दाँत हमारे कंकाल (Skeleton) का ही एक हिस्सा हैं लेकिन दांतो को हड्डीयों की श्रेणी में नहीं रखा जाता।


35. हमारे शरीर की 20% ऊर्जा हमारा दिमाग़ ही इस्तेमाल करता हैं और हमारा दिमाग़ सबसे ज्यादा ऊर्जा इस्तेमाल करने वाला शरीर का अंग हैं क्यूंकि इसमें बहुत ज्यादा तंत्रिका कोशिकाएँ और न्यूरोन्स होते हैं और यह सबसे ज्यादा काम करने वाला अंग भी हैं।


36. वैज्ञानिकों ने पता लगाया है कि इंसानों के शरीर की भी खुद की रोशनी होती है और यह पुरे दिन चमकती रहती है लेकिन यह हमारे आँखों की संवेन्दनशिलता से 100 गुना कम होती है इसीलिए इस रोशनी को आँखों से देख पाना नामुमकिन होता है। हमारे शरीर में सबसे ज्यादा रोशनी हमारे सिर पर होती है।


37. जिगर (Liver) हमारे शरीर का ऐसा हिस्सा हैं जो पूरी तरह पुनः विकसित हो सकता है। अगर लीवर को दान कर दिया जाता हैं या हम किसी बीमारी के कारण इसे खो देते हैं तो भी है कुछ ही हफ्तों में खुद को पूरी तरह पुराने आकार में विकसित कर लेता है।


38. हमारे पेट में मौजूद अम्ल (Acid) इतने शक्तिशाली होते है कि ये धातु और प्लास्टिक जैसी चीजों को भी हजम कर सकते है।


39. ज़ब भी हम कोई अपना पसंदीदा गाना सुन रहे होते है तो हमारी सांस और दिल की धड़कन भी कभी गाने की धुन को मैच करके उसी गति में चलने लगती है।


40. आँख शरीर का इकलौता ऐसा अंग है जिसका आकार जन्म लेने से बुढ़ापे तक एक समान ही रहता है।


41. इंसान ज़ब भी जन्म लेता हैं तो वह सिर्फ 2 डर के साथ ही पैदा होता हैं जो कि है गिरने का डर और ऊँची आवाज से डर। बाकि के सभी डर इंसान बड़े होने पर धीरे धीरे समझने लगता हैं।


42. इंसानों में ब्लड ग्रूप का पता लगाना एक मुश्किल कार्य होता है लेकिन वैज्ञानिकों ने अभी तक 30 के करीब ब्लड ग्रूप का पता लगाया है लेकिन इन्हें आसान बनाने के लिए इन्हें ABO ब्लड ग्रुप में बांटा गया है।


43. स्वस्थ इंसानों का दिल एक मिनट में 75 बार, 1 दिन में 100,000 बार, 1 साल में 35 मिलियन बार और पुरे औसतन उम्र में 2.5 बिलियन बार धड़कता है।


44. एक औसतन इंसान अपनी पूरी जिंदगी में 33 टन तक खाना खा जाता है जोकि 6 हाथियों के वजन के बराबर है।


45. ज़ब भी हम कुछ निगलते है तो कुछ देर के लिए हमारी सांसे रूक जाती है, मतलब कि हम एक साथ निगलना और सांस नहीं ले सकते।


46. इंसानों के शरीर कि हड्डीयाँ लगभग हर 10 सालों के बाद खुद को बदलती हैं और इस प्रक्रिया को modeling कहा जाता हैं। इसमें पुरानी हड्डीयाँ खुद को बदल कर नए हड्डीयों में परिवर्तित हो जाती है।


47. इंसानों की हड्डीयाँ बराबर की स्टील के मुकाबले हल्के होने के बावजूद भी 5 गुना तक मजबूत होती है।


48. ज़ब भी इंसानों के बच्चे जन्म लेते है तो जन्म के समय ज्यादातर बच्चों की ऑंखें नीली होती है और ऐसा उनमें melanin की कमी के कारण होता है लेकिन कुछ ही हफ्तो में उनकी ऑंखें अपनी प्राकृतिक रंग में आ जाती है।


49. किसी अच्छे गाने या धुन से दिल की धड़कन या ब्लड प्रेशर को कम किया जा सकता है इसीलिए कभी जरूरत पड़ने पर हॉस्पिटल में भी मधुर संगीत बजाया जाता है।


50. हमारे दिमाग़ में pain receptors मौजूद नहीं होते इसीलिए ये दर्द महसूस नहीं कर सकते यही कारण है की कई बार दिमाग़ की सर्जरी इंसान को बिना बेहोश किये भी की जाती है।


Keywords - Human body Facts, Human Body facts in hindi, Facts about Human Body in hindi, Human facts in hindi

Post a Comment

0 Comments

Search This Site